विश्व शांति पर निबंध (Vishwa Shanti Essay In Hindi) – World peace essay in Hindi

प्रस्तावना

विश्व शांति देश का एक अहिंसक भवन स्रोत है, जहां देश स्वेच्छा से या सरकारी प्रणाली के द्वारा अपनी इच्छा प्रकट करता है। शांति और सद्भाव किसी भी देश का एक महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता हैं। देश के लोग सिर्फ सुरक्षित महसूस कर सकते हैं और केवल वही जो समृद्ध होते हैं जब सामाजिक माहौल शांतिपूर्वक बनाए रखता है।

फिर भी राष्ट्र में भिन्नता से लोगों के लिए कई शांतिपूर्ण वातावरण स्थापित किये गए हैं, परंतु फिर से कई अन्य कारणों की वजह से, देश की शांति और दयालुता ने कई बार मुश्किलें देखी है।

अगर जाति, वर्ग या लिंग पर स्तरीकरण पर्याप्त रहता है और हर चुनौती को स्वीकृति दे दी जाती है, तो संघर्ष और हिंसा की संभावना तय है। ऐसी ‘संरचनात्मक हिंसा’ का एक बड़ा स्तर निर्धारित हो सकता है।

दुनिया में शांति बनाने के लिए रणनीतियाँ

विश्वभर में शांति का माहौल स्थापित करनेहेतु और बनाए रखने के लिए कई प्रकार के रणनीतियों को अंजाम दिया गया है।

इस रणनीति को रूप देने में तीन महत्वपूर्ण विचारों की मदद की गई है। एक स्थान को स्थापित करने की प्रथम कोशिश जो देशों में मौजूद है।

उनकी संप्रभुता और उनके बीच प्रतिस्पर्धा संघर्षों के सही प्रबंधन और संघर्ष पारस्परिक संतुलन प्रणाली के द्वारा किए जाने की अधिक आवश्यकता है। दुसरीं कोशिश देश की गहराई तक पारस्परिक प्रतिस्पर्धा को भी स्वीकार करता है।

किन कारणों से शांति और सद्भावना पर असर पड़ता है?

आतंकवादी हमले इस देश में शांति और सद्भाव के विकारों के सबसे अहम कारकों में से एक बन गए हैं। इस देश में शांति और अच्छे विचार अक्सर धर्म के नाम पर तंग करते हैं।

कुछ धार्मिक समूहों ने अन्य धर्मों को अपने हित लेने की अत्यंत कोशिश की, जिससे समाज में असंतोष नामक बीमारी ने जन्म लिया।राजनीतिक दल कई बार मनुष्यों को अपनी स्वार्थीता को पूर्ण करने के लिए अन्य पार्टियों को लाभ देते हैं, जिससे कि राज्य से शांति मिट सके।

आरक्षण प्रणाली ने आम श्रेणियों के बीच कई दंगों को स्थापित किया है। कुछ समुदाय भी अपने लोगों के लिए आरक्षण की मांग करके समय-समय पर अपना विरोध दिखाते हैं।

सकारात्मक और पारस्परिक निर्भरता की संभावना

यह कई देशों व आर्थिक सहयोग में शामिल है। ऐसा सोच जाता है सहयोग राष्ट्र की संप्रभुता को बेहतर बनाएगा और अंतरराष्ट्रीय नीति को और मजबूत करेगा।

क्रिसमस पर निबंध: Click Here

सभी निबंध अंग्रेजी में जानने के लिए यहा क्लिक करे: Click Here

जिसका निष्कर्ष यह है कि वैश्विक संघर्ष की नामौजूदगी रहेगी, जो बेहतर शांति की ओर अग्रसर होगी। संयुक्त राष्ट्र एक ही वजह के साथ अहम तत्वों पर विचार कर सकते हैं।

सुरक्षा परिषद, जो पांच प्रमुख देशों में स्थायी और उपजाऊ सदस्यता प्रदान करती है। अंतरराष्ट्रीय व्यापार जिसपर एक देश कार्य कर रहा होता है वो सामने दिखता है। आर्थिक परिषद कई जगहों में देशों के बीच मदद को दर्शाती है।

देश में शांति और सद्भाव को बनाए रखना थोड़ा असंभव माना गया है, जब तक हम में से हर एक की ज़रूरत पूरी होती नहीं दिखती तब तक जरूरतों के बारे में हम थोड़े भी संवेदनशील नहीं है और इसमें योगदान नहीं के बराबर ही रहता है।

निष्कर्ष

देश के अधिकार ख़ुद ही समाज में भाईचारे और दोस्ती की भावना को सुनिश्चित नहीं कर सकते है। किसी भी समुदाय के लिए सरलता से कार्य करने के लिए शांति और सद्भावना बहुत ज़रूरी है। अपने नागरिकों के लिए एक सुरक्षित वातावरण प्रदान करने के लिए, भारत सरकार देश में शांति बनाए रखने के लिए कदम उठाती है।

error: Content is protected