स्टार्टअप इंडिया पर निबंध (Startup India Essay in Hindi)

प्रस्तावना

स्टार्ट-अप इंडिया वह योजना है, जिसे पंतप्रधान नरेंद्र मोदी जी ने साल 2015 शुरू किया था। हम सभी को पता है की, अपना भारत देश कई सारे महान और प्रतिभाशाली लोगों से भरा हुआ है।

लेकिन आज के समय में यहा युवा पीढ़ी को अपने सपनों को पूरा करने के लिए ज्यादा मौके नहीं मिलते है। इसलिए भारत सरकार ने युवा पीढ़ी के सपनों को पूरा करने के लिए इस योजना का निर्माण किया है।

इस योजना की घोषणा साल 15 अगस्त 2015 में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी ने स्वतंत्रता दिवस पर की थी और 16 जनवरी को युवा पीढ़ी के सपनों को पूरा करने में मदत करने के लिए इस योजना को लॉन्च किया गया था।

स्टार्ट-अप इंडिया के उद्देश्य

युवा पीढ़ी देश का भविष्य होती है, क्योंकि युवा पीढ़ी ही देश का विकास करने में सक्षम होती है। इसका कारण है युवा व्यक्ति के अंदर रहने वाली ऊर्जा और उत्साह।

सरकार की यह योजना युवा पीढ़ी के इसी ऊर्जा और उत्साह को एक सही मार्ग दिखाने में मदत करगी। जहा इस योजना की मदत से युवा पीढ़ी अपने सपनों को पूरा कर सकती है।

जिसमे यह उन्हें वे संसाधन देगा जो उन्हें उद्योगपति या उद्यमी बनने के अपने सपने को पूरा करने की अनुमति देगा। इन चीजों के लिए एक स्टार्ट-अप नेटवर्क की आवश्यकता होती है, जो यह अभियान प्रदान करेगा।

इस अभियान में बैंक युवाओं को देश में बेहतर रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए आर्थिक सहायता करेगी। इस तरह इस अभियान का मुख्य उद्देश्य देश में बढ़ने वाली बेरोजगारी की समस्या को पूरी तरह समाप्त करना है। जिससे देश के विकास में बहुत बड़ी सहायता होगी।

स्टार्टअप इंडिया की कार्य योजना

साल 2015 में यह अभियान लॉन्च करने के बाद, इस अभियान की कार्य योजना साल 2016 से शुरू की गई थी। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य देश से बेरोजगारी को पूरी तरह से समाप्त करके उद्यमिता को बढ़ावा देना है।

इसलिए जब यह अभियान शुरू हुआ, तब सबसे पहले यह भारत देश के कई सारे केंद्रीय विश्वविद्यालयों के संपर्क में आया। जैसे की IIT, IIM, NIT और अन्य केंद्रीय विश्वविद्यालय।

स्टार्टअप इंडिया अभियान के कार्य योजना का प्रमुख हिस्सा उन्हें बैंक वित्तपोषण को बढ़ावा देने की पेशकश करना था। इस अभियान ने प्रोत्साहन के साथ स्टार्ट-अप उद्यम भी प्रदान किए, जो उनकी उद्यमिता को बढ़ावा देने में मदद करेंगे।

निष्कर्ष  

इस योजना ने युवाओं को बेरोजगारी की समस्या से बाहर निकलने में बहुत बड़ी मदत की है। जिसमे युवा पीढ़ी अपने सपनों को पूरा कर सकती है और अपने भारत देश के विकास में बहुत बड़ा योगदान दे सकती है।

error: Content is protected