गणतंत्र दिवस पर निबंध (Republic Day Essay in Hindi)

प्रस्तावना

गणतंत्र दिवस यह एक अपने भारत देश का राष्ट्रीय त्योहार है। जो हर साल 26 जनवरी के मनाया जाता है। जो अपने देश के हर एक नागरिक के लिए एक महत्वपूर्ण त्योहार है।

क्योंकि इसी दिन हमारे देश के संविधान की स्थापना हुई थी।

एक समिति का गठन

जब अपने भारत देश को 15 अगस्त के दिन स्वतंत्रता मिली, तब कुछ दिनों बाद 29 अगस्त को एक समिती का गठन किया गया था और इसे देश के लिए संविधान बनाने के कर्तव्य के साथ नियुक्त किया गया था।

जिसमे इस समिति के लिए डॉ. बी.आर आंबेडकर को अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था। तब इस संविधान बनाने में दो साल, ग्यारह महीने, और अठारह दिन लगे।

26 जनवरी 1950 का दिन

जनवरी 1950 में संविधान की हस्तलिखित प्रतियों को घटक विधानसभा के सदस्यों द्वारा हस्ताक्षरित किया गया था। तब दो दिनों के बाद, 26 जनवरी, 1950 को गणतंत्र दिवस के रूप में घोषित किया गया।

ऐतिहासिक महत्व

इस दिन से संबंधित कई ऐतिहासिक महत्व है। 1930 में इसी दिन देश में पूर्णा स्वराज की घोषणा की गई थी। यह उसी दिन था जब जौहरलाल नेहरू को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था।

भले ही भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने 1930 में स्वतंत्रता दिवस घोषित किया था, लेकिन अपने भारत देश को 15 अगस्त 1947 को अंग्रेजों से स्वतंत्रता मिली थी।

निष्कर्ष

इसलिए, 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस और 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया गया। गणतंत्र दिवस को देश के लिए बहुत खुशी और देशभक्ति के साथ मनाया जाता है।

  • कोरोनावायरस पर निबंध: Click Here
  • महिला सशक्तिकरण पर निबंध: Click Here
  • सभी प्रकार के निबंध यहा देखे: Click Here
  • सभी प्रकार के निबंध यहा देखे (अंग्रेजी भाषा में): Click Here
error: Content is protected