redmi kaha ki company hai

रेडमी के मोबाइल को पूरी दुनिया का हर एक इंसान जनता है। विशेषता: भारत देश में इस मोबाइल को बहुत ही ज्यादा पसंद किया जाता है। इस मोबाइल की भारत देश में बिक्री इतनी ज्यादा है की वो पुरे भारत देश में बिक्री के मामले में प्रथम क्रमांक पे आने वाला मोबाइल है।

रेडमी के मोबाइल को इतनी ज्यादा लोगप्रियता इसलिए है की उनकी एक खासियत है की बहुत ही कम दाम में अच्छे से अच्छे फीचर वाला मोबाइल  ग्राहकों को देना। जो फीचर बड़े मोबाइल में होते है उसीके बराबर वाले फीचर रहने वाला एक स्मार्टफोन बहुत ही काम दाम में बेचना।

रेडमी ने बदलते मार्केटिंग को नज़र रखते हुए अपने प्रोडक्ट की लोकप्रियता हासिल करने के लिए उन्होंने Amazon.com और flipcard जैसे ऑनलाइन बिक्री करने वाले बाजार में उतार दिया। जहा उन्होंने सोचा भी नहीं होगा उतनी ज्यादा लोकप्रियता उनके प्रोडक्ट को मिली थी। तो चलिए दोस्तों आज हम इसी रेडमी स्मार्टफोन के बारेमे जानेंगे।

कंपनी की स्थापना:

रेडमी कंपनी की स्थापना 6 अप्रैल 2010 को चाइना की राजधानी बीजिंग में हुई थी। इस कंपनी के फाउंडर ली जुन है।

कंपनी का इतिहास:

रेडमी स्मार्टफोन को बहुत सारे नाम से पहचाना जाता है। शाओमी, MI और रेडमी ये तीन नाम से उसे पहचाना जाता है। उसमे से MI ये नाम बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय है। क्यूंकि इसी नाम के वजह से रेडमी के स्मार्टफोन को पहचान  मिली है। रेडमी स्मार्टफोन कंपनी की स्थापना चाइना देश में होने की वजह से वो एक चाइनीज़ ब्रांड है। रेडमी स्मार्टफोन ब्रांड शाओमी कंपनी का ही एक उप-ब्रांड है।

जिसे शाओमी कंपनी द्वारा बनाया था। जो 10 जनवरी, 2019 में शाओमी कंपनी से अलग होकर एक सब ब्रांड बन गया। जो एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम के माध्यम से Xiaomi MIUI उपयोगकर्ता इंटरफ़ेस का उपयोग करते हैं।

रेडमी फ़ोन की रिलीज होनेवाली तारीख की घोषणा शाओमी के वेबसाइट पर की गयी थी। जिसकी बिक्री 12 जुलाई 2013 को शुरू हुई थी। इसके बाद 4 अगस्त 2014 में द वॉल स्ट्रीट जर्नल ने बताया की चीन के स्मार्टफोन बाजार में शाओमी ने स्मार्टफोन शिपमेंट रैंकिंग में 14% बाजार हिस्सेदारी के साथ सैमसंग को पीछे छोड़ दिया। उस समय सैमसंग की हिस्सेदारी 12 % ही थी। जबकि यूलोंग और लेनोवो दोनों की 12% बाजार हिस्सेदारी थी। रेडमी फोन की बिक्री ज्यादा होने के वजह से शाओमी की शिपमेंट रैंकिंग में बहुत ही ज्यादा फायदा हुवा था। इसके विपरीत, 2014 की पहले तीन महिनो में , शाओमी के पास 10.7% बाजार हिस्सेदारी थी। 

इसके बाद शाओमी कंपनी ने मोबाइल मार्केट की दुनिया में बहुत ही ज्यादा लोकप्रियता कमाई और अपने ग्राहकोंके लिए अच्छे से अच्छे फीचर वाले मोबाइल बनाती रही और एक दिन वो पुरे भारत देश में सबसे ज्यादा मोबाइल बेचने वाली कंपनी बन गयी।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: