nokia phone kaha ki company hai

NOKIA के मोबाइल को दुनिया का हर इंसान जानता है। एक ज़माना था जब पूरी दुनिया में नोकिया के मोबाइल का ही राज चलता था। तब उन दिनों में एंड्राइड सिस्टम वाले स्मार्टफोन नहीं थे।

उस समय हर किसी के पास नोकिया का फोन ही दिखता था। मोबाइल खरीदने वाले हर ग्राहक की पहली पसंद नोकिया थी। उसी फ़ोन पे ज्यादा तर लोग विश्वास रखते थे।

उस समय बाजार में बहुत सारी कंपनी के मोबाइल होते थे, लेकिन उन सबमे नोकिया जैसी गुणवत्ता नहीं थी। तो दोस्तों आज हम इसी नोकिया फ़ोन के बारे में जानेंगे।

कंपनी की स्थापना:

नोकिया कंपनी की स्थापना 1865 में फिनलैंड देश का शहर ताम्पेरे में हुई थी। इस कंपनी के संस्थापक का नाम  फ्रेडरिक इदेस्ताम है। फ्रेडरिक इदेस्ताम ने 1865 में इस कंपनी की शुरुआत एक मोबाइल बनानेवाली कंपनी से नहीं बल्कि एक पेपर मिल के लिए हुई थी। नोकिया कंपनी को “नोकिया” ये नाम वहांकी नोकिंविरता नदी वजह से मिला था।

कंपनी की शुरुवात:

साल 1871 में फ्रेडरिक ने अपने दोस्त लियो के साथ मिलकर “Nokia AB” नाम की कंपनी बना दी थी। आगे चलकर “Nokia AB” इस कंपनी ने साल 1922 में Finnish Rubber Work और Finnish Cable Work  इन दो कंपनियोंके साथ मिलकर इलेक्ट्रॉनिक्स और केबल का व्यापार करने लगी थी। कुछ सालो बाद साल 1967 में Nokia AB, Finnish Rubber Work और Finnish Cable Work इन तीनो कंपनियों ने मिलकर 1967 में Nokia Corporation की स्थापना की थी।

अब इस Nokia Corporation के प्रमुख चार बिजिनेस थे। फॉरेस्ट्री, इलेक्ट्रॉनिक, केबल और रबर। उसके बाद साल 1970 में नोकिया कंपनी ने नेटवर्किंग और रेडिओ इंडस्ट्रीज में भी शुरुवात की। जहा कंपनी फिनलैंड देश के आर्मी के लिए रेडिओ इक्विपमेंट बनाने का काम करती थी। साल 1980 तक नोकिया कंपनी ने अपनी मार्केट की पकड़ और लोगप्रियता रशिया जैसे बड़े देश बनाली थी।

फिर आगे चलकर 1980 से लेकर 1990 तक नोकिया ने तीन कंपनियोंको प्राप्त कर लिया। सबसे पहले साल 1984 में “सलोरा कंपनी” को जो टीवी बनाती थी। उसके बाद 1985 में कंप्यूटर बनाने वाली कंपनी लक्सर ए बी को और 1987 में “ओसनिक” नाम के टीवी कंपनी को प्राप्त किया था। इस तरह से इन तीनो कंपनियोंको प्राप्त करने के बाद नोकिया कंपनी टेलीविज़न बनाने वाली दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी कंपनी बन गयी थी।

इन दिनों में नोकिया बहुत ही ज्यादा मात्रा में टीवी और कंप्यूटर मॉनिटर बना रही थी। उसके बाद नोकिया कंपनी ने मोबाइल क्षेत्र में शुरुवात थी। इसी शुरुवात के लिए टेलीफोन कंपनी “मोबिरा” को प्राप्त करके साल 1982 में नोकिया ने अपना पहला फ़ोन बाजार में उतारा था। जिसका नाम था मोबिरा सीनेटर

कुछ सालो बाद साल 1987 में नोकिया ने अपना पहला पोर्टेबल मोबाइल फोन लॉन्च किया जिसका नाम था मोबिरा सिटीमैन। आगे चलकर नोकिया कंपनी ने साल 1990 में सिमल्स कंपनी के साथ मिलकर पहला GSM नेटवर्क बनाया था। उसके बाद नोकिया के फ़ोन से ही दुनिया का पहला GSM कॉल फिनलैंड देश के पंतप्रधान Harri Holkeri ने 1 जुलाई 1991 में किया था। बस वहींसे नोकिया कंपनी का नाम मोबाइल नेटवर्क कंपनियों में सबसे पहले लिया जाने लगा।

फिर साल 1992 में नोकिया कंपनी का पहला कमर्शियल GSM  मोबाइल Nokia 1011 लॉंच किया गया। तबसे नोकिया अक्टूबर 1998 तक मोटोरोला जैसी कंपनी को पीछे छोड़ते हुए सबसे ज्यादा बिकने वाला ब्रांड बन गया। उसके बाद नोकिया कंपनी ने साल 2003 में सबसे ज्यादा बिकने वाला फ़ोन Nokia  1100 लॉन्च किया। उसके बाद नोकिया ने बहुत सारे अलग अलग प्रकार के मोबाइल बाजार में लांच किये थे जो लोगोंमे बहुत ही ज्यादा लोगप्रिय थे।

आगे चलकर बाजार में एप्पल और सैमसंग जैसी कंपनिया आने के वजह से नोकिया का मार्केट घटता चला गया। इसीलिए नोकिया ने माइक्रोसॉफ्ट जैसे कंपनी साथ मिलकर विंडोज वाले फ़ोन बाजार में लॉन्च किये थे। लेकिन ये फ़ोन भी कुछ खास नहीं कर पाये और माइक्रोसॉफ्ट कंपनी ने नोकिया कंपनी को खरीदलिया।

One thought on “nokia phone kaha ki company hai

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: