पर्यावरण बचाओ पर निबंध हिंदी में (Essay on Saving Environment in Hindi)

पर्यावरण का तात्पर्य प्राकृतिक परिवेश और परिस्थितियों से है जिसमें हम रहते हैं। दुर्भाग्य से, यह पर्यावरण गंभीर खतरे में है। यह खतरा लगभग पूरी तरह से मानवीय गतिविधियों के कारण है।

इन मानवीय गतिविधियों ने निश्चित रूप से पर्यावरण को गंभीर नुकसान पहुंचाया है। सबसे उल्लेखनीय, यह क्षति पृथ्वी पर जीवित चीजों के अस्तित्व को खतरे में डालती है। इसलिए पर्यावरण को बचाने की नितांत आवश्यकता है।

पर्यावरण को बचाने के तरीके

सबसे पहले, पेड़ लगाने के लिए बड़े पैमाने पर ध्यान दिया जाना चाहिए। इन सबसे ऊपर, एक पेड़ ऑक्सीजन का स्रोत है। दुर्भाग्य से, निर्माण के कारण, कई पेड़ काट दिए गए हैं। यह निश्चित रूप से पर्यावरण में ऑक्सीजन की मात्रा को कम करता है। ज्यादा पेड़ उगाने का मतलब है ज्यादा ऑक्सीजन। इसलिए, अधिक पेड़ उगाने का मतलब बेहतर जीवन गुणवत्ता होगा। इसी तरह, लोगों को वन संरक्षण पर ध्यान देना चाहिए। वन पर्यावरण के लिए महत्वपूर्ण हैं। हालांकि, वनों की कटाई निश्चित रूप से दुनिया भर के जंगलों के क्षेत्र को कम करती है।

जंगलों के संरक्षण के लिए सरकार को कार्यक्रम शुरू करने चाहिए। सरकार को वनों को नुकसान पहुंचाना एक आपराधिक अपराध बनाना चाहिए। पर्यावरण को बचाने के लिए मृदा संरक्षण अभी तक एक और महत्वपूर्ण तरीका है। इसके लिए भूस्खलन, बाढ़ और मिट्टी के कटाव का नियंत्रण होना चाहिए। इसके अलावा, मिट्टी के संरक्षण के लिए वनीकरण और वृक्षारोपण भी होना चाहिए। अपशिष्ट प्रबंधन पर्यावरण की सुरक्षा का एक शक्तिशाली तरीका है। कचरे का उचित निपटान होना चाहिए। सबसे उल्लेखनीय, यह पर्यावरण को स्वस्थ रखने में मदद करेगा।

सरकार को सड़कों और अन्य प्रदूषित भूमि क्षेत्रों को साफ करना सुनिश्चित करना चाहिए। इसके अलावा, हर घर में शौचालय होना चाहिए। साथ ही, सरकार को पर्याप्त सार्वजनिक शौचालय उपलब्ध कराने चाहिए। प्रदूषण शायद पर्यावरण के लिए सबसे बड़ा खतरा है। धुआं, धूल और हानिकारक गैसें वायु प्रदूषण का कारण बनती हैं। वायु प्रदूषण के ये कारण ज्यादातर उद्योगों और वाहनों से आते हैं। इसके अलावा, रसायन और कीटनाशक भूमि और जल प्रदूषण का कारण बनते हैं।

पर्यावरण को बचाने के लाभ

सबसे पहले, दुनिया की जलवायु सामान्य रहेगी। पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने और प्रदूषण के कारण ग्लोबल वार्मिंग हो गई है। इसके कारण कई मनुष्यों और जानवरों की मृत्यु हो गई है। इसलिए, पर्यावरण को बचाने से ग्लोबल वार्मिंग कम होगी। लोगों के स्वास्थ्य में सुधार होगा। प्रदूषण और वनों की कटाई के कारण, कई लोगों का स्वास्थ्य खराब है।

पर्यावरण के संरक्षण से निश्चित रूप से लोगों के स्वास्थ्य में सुधार होगा। सबसे उल्लेखनीय, पर्यावरण को बचाने से कई बीमारियां कम होंगी।पर्यावरण को बचाने से निश्चित रूप से जानवरों की रक्षा होगी। पर्यावरण को बचाने के कारण कई प्रजातियों का विलोपन नहीं होगा। कई लुप्तप्राय प्रजातियों की आबादी में भी वृद्धि होगी।

जल स्तर बढ़ जाएगा। पर्यावरण के नुकसान से भूजल के स्तर को गंभीर रूप से कम कर दिया है। इसके अलावा, दुनिया भर में पीने के शुद्ध पानी की कमी है। इसके कारण कई लोग बीमार होकर मर गए। पर्यावरण को बचाने से निश्चित रूप से ऐसी समस्याओं से बचा जा सकता है।

निष्कर्ष 

पर्यावरण इस ग्रह पर एक अनमोल उपहार है। हमारा पर्यावरण एक बड़े खतरे का सामना कर रहा है। पर्यावरण को बचाना समय की जरूरत है। शायद, यह मानवता की सबसे बड़ी चिंता है। इस संबंध में कोई भी देरी विनाशकारी हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: