कस्तूरबा गाँधी पर निबंध (essay on kasturba gandhi in hindi)

प्रस्तावना

कस्तूरबा गांधी जिनका पूरा नाम कस्तूरबा मोहनदास गांधी है। वह मोहनदास करमचंद गांधी जी मतलब महात्मा गांधीजी की पत्नी थी। कस्तूरबा गांधी एक राजनीतिक कार्यकर्ता भी थी।

यह अपने पति महात्मा गांधीजी के साथ भारत को ब्रिटीशों से आजाद करने के लिए भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में भी शमील हुई थी।

प्रारंभिक जीवन

कस्तूरबा गांधीजी का जन्म 11 अप्रैल 1869 में गुजरात के पोरबंदर शहर के काठियावाड़ क्षेत्र में हुआ था। कस्तूरबा गांधी का शादी से पहले का नाम कस्तूरबाई माखनजी कपाड़िया था।

इनके पिता का नाम गोकुलधाम कपाड़िया था और माँ का नाम व्रजकुंवरबा कपाड़िया था। उस जमाने में लड़कियों को ज्यादा पढ़ाया लिखाया नहीं जाता था और उनकी कम उम्र में ही शादी कर दिया करते थे।

इसलिए कस्तूरबा जी की शादी भी उनके बचपन में ही की थी। कस्तूरबा गांधी एक गुजराती परिवार से थी।

कस्तूरबा गांधी के बच्चे

कस्तूरबा गांधी की महात्मा गांधी से शादी हुई थी। उसके बाद कस्तूरबा जी ने पाँच बेटों को जन्म दिया था। जिनमे से सबसे बड़े बेटे की जन्म में ही मृत्यु हुई थी।

बाकी चार बेटों में हरीलाल गांधी, मनीलाल गांधी, देवदास गांधी और रामदास गांधी शामिल है।

कस्तूरबा गांधी का राजनीतिक करियर

कस्तूरबा गांधीजी के राजनीतिक करियर की शुरुवात साल 1904 में हुई थी। जहा उन्होंने शुरुवात में अपने पति के साथ मिलकर दक्षिण अफ्रीका में डरबन के पास फीनिक्स सेटलमेंट स्थापित करने में मदद की थी।

उसके बाद उन्होंने साल 1913 में दक्षिण आफ्रिका में भारतीय प्रवासियों के साथ हुए दुर्व्यवहार के विरोध में हिस्सा लिया था। आगे चलकर वह जुलाई 1914 में अपने पति महात्मा गांधी के साथ भारत वापस आ गई।

भारत आकर उन्होंने महात्मा गांधी के साथ मिलकर भारत देश के कई सारे विरोध प्रदर्शनों में हिस्सा लिया था। कस्तूरबाजी का ज्यादातर समय आश्रमों में लोगों की मदद करने और सेवा करने के लिए समर्पित था।

क्रिसमस पर निबंध: Click Here

सभी निबंध अंग्रेजी में जानने के लिए यहा क्लिक करे: Click Here

निष्कर्ष

कस्तूरबा गांधी जी ने भारत देश के आजादी के लिए अपने पति के साथ बहुत ज्यादा संघर्ष भी किया। जिसमे उन्होंने उनके साथ कई सारे आंदोलनों और विरोध प्रदर्शनों में हिस्सा लिया था। उसके बाद उनकी 22 फरवरी 1944 में उनकी मृत्यु हुई थी।

error: Content is protected