चंडीगढ़ पर निबंध (Essay On Chandigarh In Hindi Language)

प्रस्तावना

चंडीगढ़ भारत देश का एक ऐसा शहर और जगह है, जहा कई सारी विश्व प्रसिद्ध वास्तुकला मौजूद है। चंडीगढ़ एक लोकप्रिय शहर होने के साथ साथ यह एक केंद्र शासित प्रदेश भी है।

इसी के साथ चंडीगढ़ भारत के पंजाब और हरियाणा इन दो राज्यों की राजधानी है। जिसको केंद्र सरकार द्वारा प्रशासित किया जाता है।

1 नवंबर 1966 के हरियाणा के गठन से पहले यह सिर्फ पंजाब राज्य की राजधानी थी, लेकिन गठन बाद मे यह शहर दोनों राज्यों की राजधानी होने की वजह से केंद्र शासित प्रदेश बन गया।

चंडीगढ़ – द सिटी ब्यूटीफुल

चंडीगढ़ एक ऐसा शहर है, जहा शिवलिक पहाड़ियाँ मौजूद है। इन पहाड़ियों के पृष्ठभूमि से हमे नीले आकाश का बहुत बड़ा विस्तार दिखाई देता है।

चंडीगढ़ एक ऐसी जगह है, जहा हमे आधुनिकीकरण और प्रकृति संरक्षण का एक अनोखा मिश्रण दिखाई देता है। जिस कारण इस शहर को “द सिटी ब्यूटीफुल” के नाम से भी जाना जाता है।

चंडीगढ़ का नामकरण

पंजाब और हरियाणा इन दो राज्यों की राजधानी और केंद्र शासित प्रदेश रहने वाला शहर चंडीगढ़ का नाम एक देवी के नाम पर रखा गया था।

उस देवी का नाम था देवी चंडीमाता। यहा देवी चंडी का मंदिर स्थित है, इसलिए इस जगह को देवी चंडी का गढ़ कहा जाता था। जिस कारण इस शहर का नाम चंडीगढ़ रखा गया था।

चंडीगढ़ का इतिहास

आज जिस आधुनिक चंडीगढ़ को हम लोग देख रहे है, पहले वो ऐसा नहीं था। बल्कि यहा दलदल से भरी हुई एक बहुत बड़ी झील थी।

जिसमे कई हजारों लाखों साल पुराने जीवाश्म अवशेष पाए गए थे, जो यहापर प्राचीन समय में रहने वाले विविध जलीय और उभयचर जीवन का संकेत देते हैं। यह एक ऐसी जगह है, जहा हड़प्पा संस्कृति होने के कई सारे सबूत मिले है।

भारत की स्वतंत्रता का प्रतीक

भारत और पाकिस्तान का विभाजन होने से पहले लाहौर पंजाब राज्य की राजधानी थी। लेकिन जब भारत और पाकिस्तान का विभाजन हुआ, तब लाहौर पाकिस्तान की राजधानी बन गई थी।

तब चंडीगढ़ शहर का निर्माण हुआ, जो आगे चलकर पंजाब राज्य की राजधानी बनी, जिसे भारत के स्वतंत्रता का प्रतीक भी माना जाता है।

error: Content is protected