आइसलैंड के बारेमे कुछ रोचक बाते (Interesting Fact about Iceland in Hindi)

आइसलैंड का इतिहास नौवीं शताब्दी के अंत में वाइकिंग खोजकर्ताओं और पूर्व में, विशेष रूप से नॉर्वे और ब्रिटिश द्वीपों से उनके दासों के निपटारे के साथ शुरू हुआ। पश्चिमी यूरोप के बाकी हिस्सों को बसाने के बाद आइसलैंड अभी भी निर्जन था। भूमि जल्दी से बस गई थी, मुख्य रूप से नॉर्वेजियन द्वारा जो संघर्ष से भाग रहे थे या खेती करने के लिए नई भूमि की तलाश कर रहे थे।

ई. स 930 तक, सरदारों ने शासन का एक रूप स्थापित किया था, जो कि दुनिया की सबसे पुरानी संसदों में से एक है। दसवीं शताब्दी के अंत में, नार्वे के राजा ओलाफ ट्रिवगैवसन के प्रभाव से ईसाई धर्म आइसलैंड में आया। इस समय के दौरान, आइसलैंड स्वतंत्र बना रहा, एक अवधि जिसे पुराने राष्ट्रमंडल के रूप में जाना जाता है।

अंततः सभी नॉर्डिक राज्य एक गठबंधन, कलमार संघ में एकजुट हो गए, लेकिन इसके विघटन पर आइसलैंड डेनिश शासन के अधीन हो गया। 17 वीं शताब्दी से लेकर 18 वीं शताब्दी के बाद में सख्त डेनिश-आइसलैंडिक व्यापार एकाधिकार अर्थव्यवस्था के लिए हानिकारक था। आइसलैंड की परिणामी गरीबी या “मिस्ट हॉर्डशिप” जैसी गंभीर प्राकृतिक आपदाओं से बढ़ी थी। इस दौरान, जनसंख्या में गिरावट आई।

चलिए जानते है आइसलैंड के बारेमे कुछ रोचक बाते

दोस्तों इस देश में हर चार साल बाद ज्वालामुखी विस्फोट होता है।

आइसलैंड एक बिना जंगल वाला देश है। हा दोस्तों इस देश में कोई जंगल नहीं है।

इस देश में साल 1989 तक बीयर पीना अवैध था।

आइसलैंड में जो भाषा बोली जाती है वो प्राचीन नॉर्स से अपरिवर्तित बनी हुई है।

आइसलैंड में शिशुओं को नियमित रूप से झपकी के लिए छोड़ दिया जाता है।

आइसलैंड में किसी परिवार का कोई उपनाम नहीं होता है – आइसलैंडर्स पारंपरिक नॉर्डिक नामकरण प्रणाली का उपयोग करते हैं, जिसमें एक अंतिम नाम शामिल होता है जो उनके पिता या माता के नाम के साथ शामिल होता है।

आइसलैंड में कोका-कोला प्रति व्यक्ति की खपत किसी भी अन्य देश की तुलना में अधिक है।

आइसलैंड एक ऐसा देश है जहाँ आपको कही भी मैकडॉनल्ड्स के होटल नहीं दिखेंगे।

साल 2010 में आइसलैंड ने स्ट्रिप क्लब पर प्रतिबंध लगा दिया।

आइसलैंड मनुष्यों द्वारा बसाए जाने वाले पृथ्वी पर अंतिम स्थानों में से एक था।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: